हवन एवं नवरात्रि व्रत की पारणा – Vedic JyotishKrti Book Service Appointment
नवमी पूजन – तिथि एवं समय
March 30, 2020
मालाजाप की विधि
April 1, 2020

हवन एवं नवरात्रि व्रत की पारणा

:-हवन एवं नवरात्रि व्रत की पारणा:-

बासन्तिक नवरात्रि जीवन में बसन्त हमेशा बना रहे,इसके लिये अपने आगमन काल में ही माता की आराधना का पवित्र अवसर देता है,और संकेत करता है कि जीवन में माता की कृपा से हीं हमेशा बसन्त बना रहेगा।चैत्र शुक्ल पक्ष दिनाँक 25 मार्च 2020 को प्रतिपदा से प्रारम्भ होकर शुक्ल पक्ष की नवमी दिनाँक 02 अप्रैल 2020 को है।

02 अप्रैल 2020 दिन गुरुवार को नवमी रात्रि 08:46 बजे तक रहेगी,अतएव 02 अप्रैल 2020 को हवन का कार्य जब तक नवमी की उपस्थिती है,तब तक पूर्ण कर लेना चाहिये,अर्थात 02 अप्रैल 2020 को हवन का कार्य रात 08:46 बजे तक किया जा सकता है।

नवरात्रि में नव दिन व्रत रखकर माँ की उपासना करने वाले भक्त दिनाँक 03 अप्रैल 2020 दिन शुक्रवार को सूर्योदय के उपरान्त व्रत का पारण कर सकते हैं।

हवन -02 अप्रैल 2020 दिन गुरुवार रात्रि 08:46 बजे तक

नव दिन के व्रती के पारण का काल-दिनाँक 03 अप्रैल 2020 को सूर्योदय के उपरान्त

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *